दीपावली की भूतिया कहानी | Real Horror Story In Hindi

दीपावली की भूतिया कहानी | Real Horror Story In HindiHorror Story In Hindi : अक्सर हम भूतिया कहानिया पढ़ते है, जिनमे से कई भूतिया कहानियां चुड़ैल की कहानी, भूत की कहानी, Bhoot Ki KahaniReal Horror Story In Hindi होती है। आगे आप  Rahasyo Ki Duniya पर पिशाचों के भूतिया घर की कहानी | Bhutiya Kahani पढ़ने वाले है। 

यहां पर अन्य कई भूतिया कहानियां भी दी गयी है जो आपको रोचक और रोमांचित करेंगी। इन भूतिया कहानियों (Real Ghost Stories in Hindi) को पढ़ने पर आपको डर लग सकता है। इसलिए हम आपको कहना चाहेंगे की इन भूतिया कहानियों को दिन के समय में ही पढ़े।

यह Ghost Stories in Hindi आसान भाषा में लिखी गयी है ताकि आपको पढ़ने में कोई परेशानी ना हो। सरल भाषा का अर्थ है सरल शब्दों का प्रयोग किया गया है। तो आपको पढ़ने और समझने में आसानी होगी।

तो बिना देरी के शुरू करते है दीपावली की भूतिया कहानी | Real Horror Story In Hindi

दीपावली की भूतिया कहानी | Real Horror Story In Hindi | Horror Story In Hindi

दीपावली की भूतिया कहानी | Chudail Ki Kahani | Real Horror Story In Hindi
दीपावली की भूतिया कहानी

दिवाली हॉरर स्टोरी इन हिंदी - दिवाली की वो खौफनाक रात, हर कोई जानता है कि दिवाली जगमगाती रोशनी और रोशनी का त्योहार है। लेकिन ज्यादातर लोग यह नहीं जानते हैं कि दिवाली की रात अमावस्या की रात होती है और हर अमावस्या की रात को काली शक्तियां सबसे ज्यादा ताकतवर हो जाती हैं।

लेकिन 19 साल का सुनील इस बात से अंजान था। दिवाली की रात वह अपने दोस्त विजय के साथ सड़क पर घूम रहा था, तभी विजय की नजर मंदिर के पीछे एक सूने घर पर पड़ी, जहां लाल साड़ी पहने एक खूबसूरत लड़की दीपक जला रही थी।

विजय सुनील को लेकर उस घर के पास गया, दोनों जैसे ही वहां पहुंचे तो देखा कि पूरा घर दीयों से सजा हुआ है। उसने बालकनी में खड़ी उस खूबसूरत लड़की को देखा, उसने फिर वही मनमोहक मुस्कान दी और दोनों को अन्दर बुलाने का इशारा किया।

घर अंदर से भी उतना ही खूबसूरत था, जितना बाहर से, खाने के लिए तरह-तरह की चीजें टेबल पर रखी थीं। सुनील ने टेबल से एक लड्डू उठाया और खाने लगा, लेकिन गलती से उसके हाथ से नीचे गिर गया। जैसे ही सुनील लड्डू लेने के लिए झुका तो उसने देखा कि मेज के नीचे एक भयानक काली छाया पड़ी है, जो सुनील को देखते ही गायब हो गई।

सुनील जैसे ही यह बात विजय को बताने के लिए उठा तो उसने देखा कि विजय को सीढ़ियों से घसीटा जा रहा है तो सुनील घबराने लगा। तभी अचानक घर में पायल की आवाज़ आने लगी जैसे कोई लड़की एक कमरे से दूसरे कमरे में जा रही हो।

सुनील उस आवाज का पीछा करते हुए सीढ़ियां चढ़े, लेकिन जैसे ही ऊपर गए तो देखा कि कमरे के अंदर सीलिंग फैन से एक लाश लटकी हुई है। उस लाश का चेहरा देख कर सुनील बुरी तरह कांपने लगा क्योंकि वह लाश किसी और की नहीं बल्कि विजय की थी।

सुनील डर के मारे पीछे मुड़ा तो वही सुंदरी ठीक उसके सामने खड़ी थी और उसे देख मुस्कुरा रही थी। लेकिन इस बार सुनील को वह मुस्कान आकर्षक नहीं बल्कि बहुत डरावनी लग रही थी। अचानक घर की सारी लाइटें बंद हो गईं और घर धीरे-धीरे खंडहर में तब्दील हो गया। वह लड़की अभी भी सुनील को देख कर मुस्कुरा रही थी।

अचानक लाल साड़ी पहने उस लड़की के बाल सफेद और लंबे होने लगे और उसकी आंखें एकदम लाल हो गईं और उसका चेहरा बहुत डरावना हो गया।

आप यह Real Horror Story In Hindi, Rahasyo Ki Duniya पर पढ़ रहे है।

सुनील उसे देखकर दंग रह गया, वह लड़की हाथ में चाकू लिए सुमित की ओर बढ़ रही थी, सुमित किसी तरह होश में आया और बिना कुछ सोचे सीधे घर से निकल गया, लेकिन लड़की अभी भी सुमित का पीछा कर रही थी।

यह भी पढ़ें दीपावली की भूतिया कहानी

यह भी पढ़ें नशा करने वाले भूत की कहानी

यह भी पढ़ें बरगद के पेड़ वाली चुड़ैल

यह भी पढ़ें लाश चुराने वाली चुड़ैल की कहानी

यह भी पढ़ें खौफनाक भूतिया कहानियां

यह भी पढ़ें 30+ बच्चों की कहानियां 

लड़की ने उसे मारने के लिए सुनील की ओर हाथ बढ़ाया लेकिन तब तक सुनील बाहर जा चुका था। उसने जल्दी से घर का दरवाजा बाहर से बंद कर दिया। वह लड़की अंदर से बड़ी तेजी से उस दरवाजे को पीट रही थी। लेकिन अचानक से पीटने की आवाज बंद हो गई और फिर सुनील को लड़की के चीखने की आवाज सुनाई देने लगी जैसे वह उस घर के अंदर कैद हो।

सुनील जल्दी से वहाँ से चला गया और अपने घर चला गया और चुपचाप सो गया। अगली सुबह जब सुमित की नींद खुली तो उसकी मां ने बताया कि उसका दोस्त विजय कल रात से लापता है, तब सुमित ने पूरी कहानी अपनी मां को बताई।

मां ने उसे बताया कि कई साल पहले उस घर में दीवाली की रात एक लड़की ने आत्महत्या कर ली थी, तब से उसकी आत्मा उसी घर में भटकती रहती है, कोई नहीं जान सकता कि उसने आत्महत्या क्यों की और उस घर में कोई नहीं जाता।

यह सुनकर सुनील पूरी तरह से हिल गया। वह विश्वास करना चाहता था कि उसके साथ जो कुछ भी हुआ वह एक बुरा सपना था लेकिन उस रात के बाद उसका दोस्त विजय कभी वापस नहीं आया और सुनील को आज भी दीवाली की वह भयानक रात और वह लड़की याद है। भयानक चीखें जो आपको सोने नहीं देतीं।

ध्यान दें : यह सब कहानी काल्पनिक है। इन कहानी से किसी भी व्यक्ति और स्थान से कोई सबंध नहीं है।

यहाँ पर आप Horror Story In Hindi, Chudail Ki Kahaniचुड़ैल की कहानीReal Horror Story In Hindiडायन की आवाज,डायन की कहानीChudail Ki Kahani, हिंदी कहानियां , भूतिया कहानियांअसली की भूतिया कहानियांश्रापित भूतिया गांवगांव की कहानीBhooto ki kahani , Chudail Ki Kahani पढ़ सकते है।

Friends, हमें उम्मीद है आपको यह हिंदी कहानियां पसंद आई होगी। ‘पिशाचों का भूतिया घर | Real Horror Story In Hindi‘ कहानी को  Facebook Whatsapp InstaGram TeleGram पर अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें। कृपया comments के माध्यम से बताएं कि आपको Chudail Ki Kahani कहानी कैसी लगी।

नई भूतिया कहानियां पढ़ने के लिए आप हमारे फेसबुक पेज Rahasyo ki Duniya को Like और Follow करें 

 भूतिया कहानियां  :-

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने

संपर्क फ़ॉर्म